अनिद्रा के उपचार, लक्षण और कारण (Insomnia Effects and Treatment)

क्या आपको रात में नींद नहीं आती? या फिर रात में नींद आती भी है तो काफी देर से आती है? या क्या आप अनिद्रा के शिकार हैं? तो यह जानकारी बस आप ही के लिए है. (Insomnia Effects and Treatment)

अनिद्रा के उपचार, लक्षण और कारण

(Insomnia Effects and Treatment)
(Insomnia Effects and Treatment)
जैसा कि हम जानते हैं कि आज के समय में जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ती जा रही है. वैसे वैसे हमारा स्वभाव और दिनचर्या आदि चीजें भी बदलती जा रही है. इससे हमारे स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ रहा है. इसमें से सबसे बड़ी समस्या यह है कि हमें रात में नींद नहीं आती है और यह आम बात हो गई है.

आज के समय में लगभग सभी के साथ यह प्रॉब्लम हो रही है. इसके पीछे का क्या कारण है इस पर आज हम लोग बात करेंगे.

यहाँ पढ़े:
बारिश के पानी के फ़ायदे (जल चिकित्सा)
About Junk Foods in Hindi - जंक फ़ूड के बारे में
हमें सुबह के नाश्ते में क्या खाना चाहिए?

देर रात तक मोबाइल चलाना या फिर TV देखना

आजकल यह आम बात हो गई है कि लोग रात में खाना खाने के बाद अक्सर अपने हाथ में मोबाइल लेकर उसमें वीडियो या फिर चैटिंग करते हैं. जिसकी वजह से मोबाइल फोन में से निकलने वाली किरण इंसान के दिमाग को यह बताते हैं कि अभी भी तुम्हें जागना है सोना नहीं है. और जो हार्मोन्स हमारे शरीर में दिन के समय बनता है उस समय रात के समय पर ना बनने लगता है. जिसकी वजह से जब हम मोबाइल चला लेने के बाद जब मोबाइल रख देते हैं और सोने की कोशिश करते हैं तो भी तो भी हमें नींद नहीं आती.

नींद आने पर भी ना सोना

अक्सर क्या होता है कि जब भी हमें रात में नींद आती है. लेकिन हमें फिर भी काम करना रहता है. तो हम जबरदस्ती अपने आप को जगा कर रखते हैं और जब हमारा काम खत्म हो जाता है. तो जब भी हम सोने की कोशिश करते है तो हमें नींद नहीं आती. इसलिए कोशिश हमें यही करना चाहिए कि जो रात में काम करना हो वो काम को हमें दिन में खत्म कर लेना है जिसकी वजह से हम रात में जागना जागना पड़े।

सुबह के समय हमें जल्दी उठना चाहिए

यह बात जाहिर है कि अगर हम देर रात में सोते हैं. जिसकी वजह से हम सुबह जल्दी नहीं उठ सकते और जाहिर सी बात है अगर हम अगर हम लोग सुबह जल्दी नहीं उठते हैं तो फिर से हमें रात में देर में ही सोना पड़ेगा। यानी कि हमें रात में जल्दी नींद नहीं आएगी इसलिए हमें यह कोशिश करनी चाहिए कि हमें 5:00 से 6:00 के बीच में सुबह उठ जाना चाहिए और हमें दिनचर्या का काम शुरू कर देना चाहिए।

आशा करते हैं. यह जानकारी आपके काम की होगी और अधिक जानकारी के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में लिखिए और आप अपने प्रश्न हमसे पूछ सकते हैं.

Hindi Study वेबसाइट पर आपका स्वागत है. कृपया! कमेंट बॉक्स में गलत शब्दों का उपयोग ना करें. सिर्फ ऊपर पोस्ट से संबंधित प्रश्न या फिर सुझाव को लिखें. धन्यवाद!

EmoticonEmoticon