क्या हम Light की Speed जैसा तेज़ गति से travel कर सकते हैं?

Can we travel fast like the speed of light? (Know in Hindi) अगर आप से पूछा जाए कि इस ब्रह्मांड की सबसे तेज चीज क्या है? तो आपका जवाब होगा light वैसे होना भी चाहिए। क्योंकि आज तक light को छोड़कर ब्रह्मांड में ऐसी कोई चीज नहीं मिली जो उसकी गति से ज्यादा हो। 

Can we travel fast like the speed of light in Hindi?

Light की स्पीड vaccum में लगभग 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड होती है. क्या इंसान की बनाई ऐसी कोई चीज है? जो इसे रफ्तार से चल सके. वैसे अभी तक ऐसी कोई चीज नहीं है, जो light की स्पीड पा सके. तो क्या हम light की स्पीड से ज्यादा तेज travel नहीं कर सकते? क्या ऐसा संभव है?


New Horizons Spacecraft

इंसान की बनाई New Horizons Spacecraft सबसे तेज रफ्तार मशीन है. जिस की स्पीड 16 किलोमीटर प्रति सेकंड है. वही प्रकाश की गति 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड और यहाँ 16 किलो मीटर पर सेकंड कोई मुकाबला ही नहीं.

Parker Solar Probe

माफ करिएगा इससे भी फास्ट कुछ है और वह है Parker Solar Probe जिसे हाल ही में सूरज को छूने के लिए भेजा गया है. जिसकी स्पीड लगभग 700000 km/hour है. और अगर इसे सेकेंड्स में कन्वर्ट करें तो एप्रोच 5 km/s होगा. फिर भी हम light की स्पीड के आगे कहीं नहीं पहुचते. आइंस्टीन की "Theory of general relativity" के अनुसार light हमेशा same दिखेगी. मतलब अगर कोई व्यक्ति light की स्पीड से सफर कर रहा है. तो उसे light उसी तरह ही दिखेगी जैसे एक normal इंसान को दिखती है.


Light speed

Light को फर्क नहीं पड़ता कि observer उसे किस गति से ट्रेवल करके देख रहा है. जब आप light की स्पीड की 10% गति से सफर कर रहे होंगे. तो उस समय आपका वजन 0.5 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा. और जब आप प्रकाश की गति के 90% स्पीड से ट्रैवल करेंगे. तब आपका वजन 2 गुना हो जाएगा. और जैसे ही आप light की स्पीड के बराबर हो जायेंगे तो आपका वजन infinite हो जाएगा.

डॉपलर इफेक्ट

जब हम light की स्पीड से ट्रेवल करेंगे तो हमारे लिए समय भी धीमी हो जाएगा. असल में हमारे लिए समय धीमा नहीं होगा, बल्कि समय के मुकाबले हम fast हो जाएंगे. Normal इंसान जितने वक्त में 20 मिनट गुजारेगा वही हमारे लिए सिर्फ 10 minutes की ही बीते होंगे. और जब हमारी स्पीड light के exact बराबर होगी. तो हम समय के साथ चलने लगेंगे. मतलब चाहे जितना समय बीत जाए. लेकिन हमारे लिए कोई समय नहीं बीतेगा. जैसे ही हमारी स्पीड light की स्पीड से ज्यादा होगी. तो हम पास्ट में जाने लगेंगे।


Light की स्पीड के मुकाबले हम जितनी ज्यादा गति से ट्रेवल करेंगे. हम उतना ही समय भूतकाल में पीछे जाने लगेगा. जब आप light की गति के आस पास होंगे तब आपको हर तारे का रंग नीला दिखेगा और उसका कारण है डॉपलर इफेक्ट.

डॉपलर इफेक्ट का मतलब है - चेंज इन फ्रीक्वेंसी ऑफ वेव इन रिलेशन विद ऑब्जर्वर स्पीड इसका मतलब है. - कि अगर एक कार की गति 30 किलोमीटर प्रति घंटा है और अगर हम भी 30 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेंगे तो हमें कार उसी shape और size में दिखेगी. जो कि उसकी असली size और shape है. पर अगर कार की गति 10 km/hour है. और हम खड़े होकर उस कार को देखेंगे तो हम कार को exact shape और size में नहीं देख पाएंगे। यही है डॉपलर इफेक्ट.


साथी इस इफ़ेक्ट की वजह से हमें एग्जैक्ट कलर भी नहीं दिखेगा क्योंकि स्पीड की वजह से डॉप्लर इफ़ेक्ट फिर काम करने लगेगा. अब यहां सवाल आता है तो क्या हम कभी light की स्पीड से ट्रैवल कर सकते हैं. तो इसका जवाब है नहीं.

क्योंकि अगर कोई वस्तु जिसका mass होता है. वह अगर प्रकाश की गति से सफर करे तो उसका mass infinite हो जाता है और mass infinite होने का मतलब है कि उसे infinite energy की जरूरत होगी. Infinite energy पाना नामुमकिन है. मतलब light की स्पीड से ट्रेवल करना भी नामुमकिन है. वैज्ञानिकों ने Large Hadron Collider में अभी तक कुछ सबअटॉमिक पार्टिकल्स को प्रकाश की गति के 99.9% speed से travel करवाया था. पर वह प्रकाश की गति के सौ प्रतिशत स्पीड से गति नहीं करा पाए.


Infinite energy

क्योंकि उसके लिए infinite energy लगता है. लेकिन अब आप सोचेंगे कि light के पार्टिकल्स प्रकाश की गति से सफर कैसे कर लेते हैं. तो इसका कारण है कि light के पार्टिकल जिन्हा फोटोन कहते हैं. उनका कोई mass नहीं होता. Mass ना होने के कारण उन्हें infinite एनर्जी की जरूरत नहीं होती. फोटो इलेक्ट्रॉन के मुकाबले ज्यादा तेजी से चल सकते हैं. लेकिन इलेक्ट्रॉन कभी इतनी रफ्तार नहीं पकड़ सकते. क्योंकि जैसे-जैसे कोई चीज रफ्तार पकड़ती है. वह भारी हो जाती है.

Conclusion

इसलिए उसका प्रकाश की रफ़्तार हासिल कर पाना संभव नहीं होता. वही फोटोन का कोई वजन नहीं होता. अगर इसमें कोई वजन होता तो इसका भी 300000 km/s की रफ्तार से चल पाना मुमकिन नहीं होता. 

No comments:

HindiStudy.in वेबसाइट पर आपका स्वागत है. कृपया! कमेंट बॉक्स में गलत शब्दों का उपयोग ना करें. सिर्फ ऊपर पोस्ट से संबंधित प्रश्न या फिर सुझाव को लिखें. धन्यवाद!

Powered by Blogger.