Albert Einstein: Ek Vilakshan Scientist – Ek Mahan Vaigynanik Ek Vilakshan Ganitagyn Ek Anoothaa Jeeniyas

Amazon.in Price: 160.00 (as of 17/01/2020 02:54 PST- Details)

एक महान वैज्ञानिक एक विलक्षण गणितज्ञ एक अनूठा जीनियस आइंस्टाइन को थ्योरिटिकल फि़जि़क्स का महान वैज्ञानिक, आधुनिक भौतिक विज्ञान को पितृपुरुष, एक विलक्षण गणितज्ञ, प्रतिभा और मेधा का पर्याय तथा मिस्टर रिलेटिविटी कहकर सम्मानित किया जाता है। बाद में तो लोग उन्हें अंतरिक्ष का बाशिंदा और जीवष्म तक कहने लगे। वह परम ज्ञानी और प्रखर वक्ता भी थे। जब भी वह बोले, तो गणित, विज्ञान, ब्रह्मांड, धर्म, दर्शन, गाॅड, राजनीति सभी पर बोले। उन्होंने विज्ञान के जितने भी सिद्धांत दिए, सभी को दूसरों से प्रमाणित करवाकर लोहा मनवाया। यहाँ तक कि E=mc2 की विनाशक शक्ति का भी सत्यापन कराया। इसी सूत्र के कारण परमाणु बम बना, लेकिन विरोधाभास देखिए कि विश्व शांति के लिए ज़ोर – शोर से लगे रहे। बचपन का यह बुद्धु बालक नोबल पुरस्कार से नवाज़ा गया। वह गैलीलियो और न्यूटन जैसे वैज्ञानिकों के बराबर माने गए और सादगी में गांधी से दो कदम आगे। आइए पढ़ते हैं, उस विलक्षण साइंटिस्ट की जीवन – गाथा।

Category:

Description


एक महान वैज्ञानिक एक विलक्षण गणितज्ञ एक अनूठा जीनियस आइंस्टाइन को थ्योरिटिकल फि़जि़क्स का महान वैज्ञानिक, आधुनिक भौतिक विज्ञान को पितृपुरुष, एक विलक्षण गणितज्ञ, प्रतिभा और मेधा का पर्याय तथा मिस्टर रिलेटिविटी कहकर सम्मानित किया जाता है। बाद में तो लोग उन्हें अंतरिक्ष का बाशिंदा और जीवष्म तक कहने लगे। वह परम ज्ञानी और प्रखर वक्ता भी थे। जब भी वह बोले, तो गणित, विज्ञान, ब्रह्मांड, धर्म, दर्शन, गाॅड, राजनीति सभी पर बोले। उन्होंने विज्ञान के जितने भी सिद्धांत दिए, सभी को दूसरों से प्रमाणित करवाकर लोहा मनवाया। यहाँ तक कि E=mc2 की विनाशक शक्ति का भी सत्यापन कराया। इसी सूत्र के कारण परमाणु बम बना, लेकिन विरोधाभास देखिए कि विश्व शांति के लिए ज़ोर – शोर से लगे रहे। बचपन का यह बुद्धु बालक नोबल पुरस्कार से नवाज़ा गया। वह गैलीलियो और न्यूटन जैसे वैज्ञानिकों के बराबर माने गए और सादगी में गांधी से दो कदम आगे। आइए पढ़ते हैं, उस विलक्षण साइंटिस्ट की जीवन – गाथा।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Albert Einstein: Ek Vilakshan Scientist – Ek Mahan Vaigynanik Ek Vilakshan Ganitagyn Ek Anoothaa Jeeniyas”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X