Main Bill Gates Bol Raha Hoon

Amazon.in Price: 125.00 (as of 21/01/2020 03:29 PST- Details)

व्यापार, राजनीति और समाज-सेवा के समृद्ध इतिहास से संपन्न सिएटल के एक परिवार में जनमे और पले-बढ़े बिल गेट्स ने सॉफ्टवेयर में अपनी रुचि को छोटी उम्र में ही पहचान लिया और कंप्यूटरों की प्रोग्रामिंग तेरह वर्ष की अवस्था में ही शुरू कर दी। सन् 1973 में बिल गेट्स हार्वर्ड विश्वविद्यालय में दाखिल हुए और वहाँ रहते हुए उन्होंने एम.आई.टी.एस. अल्तेयर में प्रथम माइक्रो कंप्यूटर के लिए प्रोग्रामिंग की एक भाषा ‘बेसिक’ विकसित की। अपने बचपन के मित्र br>पॉल ऐलन के साथ मिलकर सन् 1975 में खोली गई कंपनी ‘माइक्रोसॉफ्ट’ में अपनी संपूर्ण ऊर्जा लगाने के लिए उन्होंने अंततः हार्वर्ड छोड़ दिया। आज अपनी दूरदर्शी सोच, कठोर परिश्रम और नवाचार के बल पर बिल गेट्स लोक-कल्याण के भी पर्याय बन चुके हैं। जैसे उद्यमशीलता उनका विशिष्ट गुण है, वैसे ही परोपकार भी उतना ही वैशिष्ट्यपूर्ण पक्ष है उनके व्यक्तित्व का। प्रस्तुत पुस्तक में लाखों लोगों के प्रेरणास्रोत बिल गेट्स की प्रेरणाप्रद संक्षिप्त जीवनी और उनके अनमोल वचन संकलित हैं। यह पुस्तक सभी सुधी पाठकों के लिए संग्रहणीय एवं उपयोगी सिद्ध होगी|

Category:

Description

About the Author

हिंदी के प्रतिष्ठित लेखक महेश शर्मा का लेखन कार्य सन् 1983 में आरंभ हुआ, जब वे हाईस्कूल में अध्ययनरत थे। बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झाँसी से 1989 में हिंदी में स्नातकोत्तर। उसके बाद कुछ वर्षों तक विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं के लिए संवाददाता, संपादक और प्रतिनिधि के रूप में कार्य। लिखी व संपादित दो सौ से अधिक पुस्तकें प्रकाश्य। भारत की अनेक प्रमुख हिंदी पत्र-पत्रिकाओं में तीन हजार से अधिक विविध रचनाएँ प्रकाश्य। हिंदी लेखन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए अनेक पुरस्कार प्राप्त, प्रमुख हैं—मध्य प्रदेश विधानसभा का गांधी दर्शन पुरस्कार (द्वितीय), पूर्वोत्तर हिंदी अकादमी, शिलाँग (मेघालय) द्वारा डॉ. महाराज कृष्ण जैन स्मृति पुरस्कार, समग्र लेखन एवं साहित्यधर्मिता हेतु डॉ. महाराज कृष्ण जैन स्मृति सम्मान, नटराज कला संस्थान, झाँसी द्वारा लेखन के क्षेत्र में ‘बुंदेलखंड युवा पुरस्कार’, समाचार व फीचर सेवा, अंतर्धारा, दिल्ली द्वारा लेखक रत्न पुरस्कार इत्यादि। संप्रति : स्वतंत्र लेखक-पत्रकार।

व्यापार, राजनीति और समाज-सेवा के समृद्ध इतिहास से संपन्न सिएटल के एक परिवार में जनमे और पले-बढ़े बिल गेट्स ने सॉफ्टवेयर में अपनी रुचि को छोटी उम्र में ही पहचान लिया और कंप्यूटरों की प्रोग्रामिंग तेरह वर्ष की अवस्था में ही शुरू कर दी। सन् 1973 में बिल गेट्स हार्वर्ड विश्वविद्यालय में दाखिल हुए और वहाँ रहते हुए उन्होंने एम.आई.टी.एस. अल्तेयर में प्रथम माइक्रो कंप्यूटर के लिए प्रोग्रामिंग की एक भाषा ‘बेसिक’ विकसित की। अपने बचपन के मित्र br>पॉल ऐलन के साथ मिलकर सन् 1975 में खोली गई कंपनी ‘माइक्रोसॉफ्ट’ में अपनी संपूर्ण ऊर्जा लगाने के लिए उन्होंने अंततः हार्वर्ड छोड़ दिया। आज अपनी दूरदर्शी सोच, कठोर परिश्रम और नवाचार के बल पर बिल गेट्स लोक-कल्याण के भी पर्याय बन चुके हैं। जैसे उद्यमशीलता उनका विशिष्ट गुण है, वैसे ही परोपकार भी उतना ही वैशिष्ट्यपूर्ण पक्ष है उनके व्यक्तित्व का। प्रस्तुत पुस्तक में लाखों लोगों के प्रेरणास्रोत बिल गेट्स की प्रेरणाप्रद संक्षिप्त जीवनी और उनके अनमोल वचन संकलित हैं। यह पुस्तक सभी सुधी पाठकों के लिए संग्रहणीय एवं उपयोगी सिद्ध होगी|

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Main Bill Gates Bol Raha Hoon”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X